प्रेम विवाह में बेटी को दी मौत की सजा : बेटी के घर में ही मां- पिता और भाई ने गला घोंटा, शव भी ले गये

0
254
पुलिस की हिरासत में बेटी की हत्या के आरोपी

हरियाणा। गुरुग्राम में मां, पिता और भाई ने मिलकर 22 साल की युवती को उसी के घर में जाकर गला घोंटकर मार डाला। बेटी को मौत की सजा इसलिए दी गयी कि उसने परिवार की मर्जी के खिलाफ जाकर दूसरी जाति के लड़के से शादी कर ली थी। पुलिस ने लड़की के पिता कुलदीप, मां रिंकी और भाई कुनाल को गिरफ्तार करके तफ़्तीश शुरू कर दी है। तीनों झज्जर जिले के रहने वाले हैं। कुलदीप की पुत्री अंजलि ने संदीप नामक युवक से दिसंबर-2022 में लव मैरिज कर ली थी।

प्रेम विवाह के बाद आ गए थे गुरुग्राम

गुरुग्राम पुलिस के अनुसार, वारदात गुरुवार रात सेक्टर-102 स्थित रॉफ अलायस सोसायटी में हुई। इस सोसायटी के फ्लैट में अपनी पत्नी अंजलि के साथ रहने वाला संदीप किसी काम से बाहर गया हुआ था। उसी समय अंजलि के माता-पिता और भाई फ्लैट पर पहुंचे। तीनों ने मिलकर पहले अंजलि का गला घोंटकर उसकी हत्या की और फिर शव अपने साथ झज्जर ले गए। वहां सुनसान जगह पर बॉडी का संस्कार कर दिया गया। बीएससी में पढ़ रही अंजलि और संदीप झज्जर के सुरैति गांव के रहने वाले हैं। अंजलि जाट समुदाय से ताल्लुक रखती थी जबकि संदीप ब्राह्मण जाति से है। दोनों ने 19 दिसंबर 2022 को मंदिर में विवाह कर लिया। संदीप गुरुग्राम के ही एक बार में बाउंसर की जॉब करता है। शादी के बाद संदीप और अंजलि गांव छोड़कर गुरुग्राम आ गए थे।

भाई ने भी की है लव मैरिज

अंजलि का 20 वर्षीय भाई कुनाल भी लव मैरिज कर चुका है लेकिन उससे अपनी बहन का प्रेम विवाह करना सहन नहीं हुआ। इसी वजह से वह सोची-समझी प्लानिंग के तहत अपने जीजा संदीप और बहन अंजलि के साथ उनके फ्लैट में रहने लगा। 17 अगस्त की सुबह संदीप जब अपनी बहन को तीज की मिठाई देने रोहतक गया तो कुनाल ने अपने पिता कुलदीप सिंह और मां रिंकी को फोन करके बुला लिया। इसके बाद कुनाल और उसकी मां ने अंजलि के हाथ-पैर पकड़ लिए जबकि पिता कुलदीप ने उसका गला घोंट दिया। कुलदीप सिंह गुरुग्राम के ही एक फाइव स्टार होटल में नौकरी करता है। वह अपने होटल में किसी से कार मांगकर लाया और उसी में डालकर अंजलि की बॉडी को झज्जर ले गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here