अत्याधुनिक स्काईवॉक फ्लाईओवर नवरात्र में वैष्णो देवी तीर्थयात्रियों को किया जाएगा समर्पित

0
410

जम्मू। कटरा में 15.5 करोड़ रुपये की लागत से निर्माणाधीन अत्याधुनिक स्काईवॉक फ्लाईओवर अक्टूबर माह में पड़ने वाले नवरात्रों में श्री माता वैष्णो देवी गुफा मंदिर के भक्तों को समर्पित किया जाएगा। इस साल नौ दिवसीय नवरात्र 15 अक्टूबर से शुरू होकर 24 अक्टूबर को समाप्त हो रहे हैं। श्री वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अंशुल गर्ग ने बताया कि श्री माता वैष्णो देवी भवन में अत्याधुनिक स्काईवॉक फ्लाईओवर का निर्माण कार्य पूरा होने के अंतिम चरण में है और अक्टूबर महीने में पड़ने वाले नवरात्रों में इसे तीर्थयात्रियों को समर्पित किये जाने की उम्मीद है।

कृत्रिम गुफा देगी प्राकृतिक गुफा का एहसास

स्काईवॉक फ्लाईओवर के प्रवेश द्वार पर एक कृत्रिम गुफा भी होगी जो भक्तों को एक प्राकृतिक गुफा का एहसास देगी। गौरतलब है कि एक जनवरी 2022 को वैष्णो देवी भवन में भगदड़ के दौरान 12 लोगों की मौत हो गई थी और 16 अन्य घायल हो गए थे। हर साल सैकड़ों तीर्थयात्री 31 दिसंबर को नए साल के पहले दिन की शुरुआत करने के लिए माता वैष्णो देवी मंदिर में आशीर्वाद लेने के लिए गुफा मंदिर में जाते हैं। स्काईवॉक फ्लाईओवर के अधिकांश भाग में वुडन फ्लोर करने के साथ ही मजबूत स्टेनलेस स्टील की दीवार बनाई गई है तो दूसरी ओर मजबूत शीशे लगाए गए हैं। जिससे श्रद्धालुओं को मां वैष्णो देवी के भवन के अलौकिक दर्शन निरंतर होते रहें।

स्काईवॉक में होगी प्रतिक्षा हॉल की सुविधा

करीब 300 मीटर लंबे इस अत्याधुनिक स्काईवॉक फ्लाईओवर के प्रत्येक 100 मीटर पर आधुनिक प्रतिक्षा हॉल बनाए जा रहे हैं। जिसमें एक ही समय 100 से 200 के करीब श्रद्धालु बैठ सकेंगे। इनके लिए बैठने का इंतजाम होगा तो वहीं इस अत्याधुनिक फ्लाईओवर स्काईवॉक के भीतर जगह-जगह एलईडी स्क्रीन लगाए जाएंगे। यहां से निरंतर श्रद्धालुओं को मां वैष्णो देवी के अलौकिक दर्शन होते रहेंगे।

60 फीट लंबी कुत्रिम गुफा

स्काईवॉक फ्लाईओवर के प्रवेश द्वार पर करीब 60 फीट लंबी कुत्रिम गुफा का निर्माण करवाया जा रहा है। ताकि इस स्काईवॉक फ्लाईओवर में प्रवेश करते ही श्रद्धालुओं को मां वैष्णो देवी की गुफा जैसा अहसास हो। वहीं, इस गुफा के भीतर दोनों और मां वैष्णो देवी के नौ रूपों की मूर्तियां सुसज्जित की जाएंगी। इसके साथ ही माता वैष्णो देवी के श्लोक तथा मंत्र आदि अंकित होंगे।

फ्लाईओवर में आपातकालीन द्वार भी होंगे

इस महत्वपूर्ण परियोजना के पूरी होने के बाद मां वैष्णो देवी भवन पर भीड़-भाड़ या फिर आपाधापी वाली स्थिति से श्रद्धालुओं को दो-चार नहीं होना पड़ेगा। इस अत्याधुनिक स्काईवॉक फ्लाईओवर से श्रद्धालु मां वैष्णो देवी के आलौकिक दर्शनों के लिए गुफाओं की ओर रवाना होंगे। वहीं, इस स्काईवॉक फ्लाईओवर के प्रत्येक 100 मीटर पर आपातकालीन निकासी द्वार भी बनाए गए हैं और साथ ही अत्याधुनिक एचडी थ्रीडी सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएंगे।

सर्दी में भी नहीं लगेगी ठंड

स्काईवॉक में वुडन फ्लोरिंग की गई है ताकि श्रद्धालुओं को सर्दी के मौसम में भीषण ठंड का सामना ना करना पड़े। क्योंकि मां वैष्णो देवी के दर्शनों को जाने के लिए श्रद्धालुओं को नंगे पांव ही भवन की ओर गुफाओं की ओर जाना पड़ता है। जिसके चलते वुडन फ्लोरिंग की गई है। मां वैष्णो देवी के दर्शनों को आ रहे श्रद्धालु बेसब्री से इस महत्वपूर्ण परियोजना के पूरा होने का इंतजार कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here