ज्योति मौर्य पर 33 करोड़ के लेनदेन का आरोप, जांच टीम को मिले अहम दस्तावेज

0
73

प्रयागराज। पति आलोक की शिकायत के बाद चर्चा में आयी पीसीएस अफसर ज्योति मौर्य पर 33 करोड़ के लेनेदेन का आरोप है। पति की ओर से शिकायत किये जाने के बाद एडीएम प्रशासन की ओर से लखनऊ जाकर इस मामले के संबंध में तफ्तीश की जा रही है। जांच टीम को कई अहम दस्तावेज भी हाथ लगे हैं। इस संदर्भ में कई और लोगों से भी पूछताछ की जा रही है।

जांच तेज हुई
पीसीएस अधिकारी ज्योति मौर्य के विरुद्ध अवैध तरीके से रुपयों के लेनदेन के मामले में अब जांच तेज कर दी गई है। जांच कमेटी में शामिल एडीएम प्रशासन हर्षदेव पांडेय इस संबंध में बीते गुरुवार को लखनऊ पहुंचे।जांच के दौरान ज्योति के छह बैंक अकाउंट की डिटेल मांगी गयी है। ज्योति व उनके पति आलोक मौर्य को नोटिस भेजा गया, जिसमें दोनों को अपने बयान दर्ज करवाने के लिए बुलाया गया है। इसके अलावा नोटिस में आरोपों व दावों का साक्ष्य को प्रस्तुत करने के देने लिए कहा गया है।

अब साक्ष्य की बारी
ज्योति मौर्या पर उसके पति आलोक ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं। आरोपों के बाद अब उससे साक्ष्य मांगे जा रहे है। ।मंडलायुक्त मामले का पर्यवेक्षण कर रहे हैं। जबकि शासन ने निर्देश दिया है कि जांच 15 दिन में पूरी की जाए और रिपोर्ट प्रस्तुत किया जाए। आलोक का आरोप है कि पद पर रहते हुए ज्योति मौर्य ने पद का गलत इस्तेमाल किया और गलत तरीके से कमाई की है। फिलहाल, नियुक्ति विभाग ने शासन स्तर पर प्रकरण में मंडलायुक्त को जांच सौंपी है। अपर आयुक्त प्रशासन अमृतलाल बिंद की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की है जोकि एडीएम प्रशासन हर्षदेव पांडेय व एसीएम प्रथम जयजीत कौर शामिल हैं। अपर आयुक्त प्रशासन ने कहा है कि डायरी की राइटिंग का मिलान भी अलग से कराया जायेगा।

32 पेज के लगे है फोटोस्टेट
आलोक के द्वारा की गई शिकायतों का कमेटी की मीटिंग में अभी अध्य्यन किया जा रहा है। आलोक के शिकायती पत्र के डायरी के 32 पेज का फोटो स्टेट भी लगाया गया था। जिसमें करीब 33 करोड़ रुपये के लेनदेन के बारे में जिक्र किया गया है। इस मामले की जांच के तहत कई विभागों के कार्यालयों से कई तरह के दस्तावेज जुटाए गए हैं जिसमें कुछ विभागीय लोगों से भी पूछताछ की गई है। एडीएम प्रशासन के द्वारा 4 होटल से भी ब्योरा भी लिया गया है। जहां कुछ महीने पहले ही ज्योति और मनीष रुके हुये थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here