CRIME NEWS : धार्मिक आयोजनों में चेन स्नेचिंग करती थीं महिलाएं, 16 गिरफ्तार, मेरठ के अच्छे घरों की महिलाएं भी गिरोह भी शामिल

0
417

CRIME NEWS : धार्मिक आयोजनों में शामिल होकर चेन स्नेचिंग करने वाली महिलाओं के गिरोह का खुलासा पुलिस ने किया है। घटना में शामिल आरोपी मेरठ और बिजनौर की रहने वाली हैं। पुलिस ने ऐसी 11 महिला चोरों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से सोने की तीन चेन बरामद की गई है, जिनकी कीमत 1.80 लाख रुपए आंकी गयी है। रविवार को कोतवाली क्षेत्र में श्रीमद्भागवत कथा के दौरान इस गैंग की महिलाओं ने चेन चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। इसमें से दो ने अप्रैल में गलशहीद थाना क्षेत्र में भी कथा के दौरान महिला के गले से चेन छीनी थी।

तलाशी ली तो बरामद हुई चेन

पुलिस के अनुसार मंडी बांस स्थित चूं चूं वाला मंदिर में श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन था। रविवार रात कथा के बाद आरती के दौरान पंडाल में मौजूद महिलाओं के गले से सोने की चेन छीनने के बाद हंगामा हो गया। कथा के आयोजकों ने मंदिर का गेट बंद कर पुलिस को सूचना दी। जिस पर कोतवाली थाना प्रभारी मनीष सक्सेना टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पंडाल का मुख्य द्वार बंद कराकर एक-एक व्यक्ति की तलाशी ली गई। तभी कुछ महिलाएं खिसकने लगीं। पुलिस ने कुल 11 महिलाओं को चिह्नित कर महिला पुलिस से इनकी तलाशी कराई। उनके पास से सोने की तीन चेन बरामद कर ली गई।

मेरठ के अच्छे घरों की महिलाएं भी गिरोह मे शामिल

पूछताछ के दौरान महिलाओं ने पहले अपना पता मुगलपुरा थाना क्षेत्र का लालबाग बताया, लेकिन सख्ती पर आरोपियों की पहचान मेरठ के टीपीनगर थाना क्षेत्र के लल्लापुरा निवासी सुनीता पत्नी प्रदीप गुप्ता, कमला पत्नी रामचंद्र, जमुना देवी पत्नी राजेंद्र कुमार और लीला देवी पत्नी राजकुमार के रूप में हुई। इसके अलावा गिरोह की मेरठ की गुप्ता कालोनी निवासी नीतू पत्नी कुलदीप, सिमरन पत्नी रंजीत सिंह व मेरठ के ही जागृति विहार मेडिकल हास्पिटल के पास की रहने वाली सुमन पत्नी अजय और बिजनौर जिले के इस्लामनगर निवासी राखी पत्नी वीर सिंह, खुशी पत्नी बृजेश, गुड़िया पत्नी अजय और सुनीता पत्नी मनोज के रूप में इनकी पहचान सामने आई। एसपी सिटी के अनुसार सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

बिजनौर की सुनीता है गिरोह की सरगना

महिलाओं ने पूछताछ में बताया कि उनकी गैंग लीडर सुनीता पत्नी मनोज है। उसके कहने पर हम सभी मिलकर शहरी क्षेत्र में होने वाले धार्मिक और मांगलिक आयोजनों में पहुंचकर मौका देखकर महिला व पुरुषों की भीड़ में घुसकर उनके गले से सोने की चेन छीनकर मौके का फायदा उठाकर निकल जाते थे। रविवार को हम सभी श्रीमद्भागवत कथा में शामिल होकर तीन लोगों की सोने की चेन चुराई थी। पुलिस के पहुंचने और मंदिर का दरवाजा बंद होने के चलते हम मौके से नहीं निकल पाए और पकड़े गए। पकडी गई आरोपी नीतू व सिमरन ने बताया कि उन्होंने अप्रैल में हरपाल नगर में चल रहे धार्मिक आयोजन में एक महिला के गले से सोने की चेन और उसका पर्स चुरा लिया था।

बांदा से भी पांच महिलाएं गिरफ्तार

बांदा के झंझरी पुरवा के मेले में अंर्तजनपदीय चेन स्नेचर गिरोह की पांच महिलाओं ने एक के बाद एक 11 महिलाओं के गले से मंगल सूत्र और चेन झपट लिए। बाद में गिरोह की पांच महिलाओं को पकड़ लिया गया। पुलिस के अनुसार जसुपरा थाना क्षेत्र के झंझरी पुरवा स्थित अमराही देव स्थान में रविवार को मेला लगा था। मेले में शामिल होने के लिए हजारों लोग आए हुए थे। मेले में कविता नाम की महिला के गले में पड़ा मंगलसूत्र चोरी हो गया। इस बात का शोर मचा तो अन्य महिलाएं भी वहां पहुंच गईं, जिनके गले से मंगलसूत्र और चेन चोरी हुए थे।

मेला परिसर में अफरा-तफरी मच गई। मेला परिसर में मौजूद तीन चेन स्नेचर महिलाएं भागती हुई नजर आईं तो लोगों ने उन्हें दौड़ाकर पकड़ लिया और जमकर धुनाई कर दी। बाद में दो और महिलाओं को पकड़ा गया। सभी महिलाओं के पास से मंगलसूत्र और चेन बरामद हुए हैं। 900 रुपया भी बरामद किया गया है। एएसपी ने बताया कि सभी महिलाएं कौशांबी की रहने वाली हैं। एसएसपी ने कहा कि पकड़ी गईं सभी महिलाएं अंर्तजनपदीय चेन स्नेचर गिरोह की सदस्य हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here